Char Dham Yatra ki jankari Hindi me, chardham yatra all information, Char Dham Yatra Guide, Yamunotri, Gangotri, Kedarnath, Badrinath dham All Informaion. पनी इस पोस्ट के द्वारा मैं आपको Char Dham Yatra से जुडी पूरी जानकारी Hindi में दूंगा. जिसका टाइटल है Char Dham Yatra ki Jankari Hindi Me.

Welcome To My Latest Char Dham Yatra Article. अपनी इस पोस्ट के द्वारा मैं आपको Char Dham Yatra से जुडी पूरी जानकारी Hindi में दूंगा. तो चलिए शुरू करते है अपनी Char Dham Yatra ki Post. जिसका टाइटल है Char Dham Yatra ki Jankari Hindi Me.   
Char Dham Yatra Ki Jankari Hindi me
Char Dham Yatra Ki Jankari Hindi me 
जैसा कि आप सभी को मालूम है मैं Haridwar का रहने वाला हु और Haridwar Uttarakhand में मौजूद है. वो ही Uttarakhan जहाँ ऊंची ऊँची पर्वत चोटियां, मनमोहक पहड़ों से बहते ठन्डे पानी के झरने, फूलो से सजी रंग बिरंगी घांटिया के साथ ऐसे अनगिनत द्रस्य मौजूद है. जो आपके मन को ऐसी शांति देगी जिनकी आप कल्पना भी नहीं कर सकते.

Char Dham Yatra ki jankari Hindi me

Uttarakhand की भूमि को देव भूमी के रूप में भी जाना जाता है. सभी हिन्दुओ के लिए यह सबसे ज्यादा पवित्र स्थान है. Uttarakhand की इसी देव भूमी पर चार ऐसे पवित्र स्थान मौजूद है. जहा हर हिन्दू अपने जीवन काल में इन स्थानों पर जाना चाहता है, Uttarakhand में मौजूद यह स्थान Char Dham के नाम से जाने जाते है.

उत्तराखंड में मौजूद इन चार धाम को बद्रीनाथ, केदारनाथ, गंगोत्री और यमुनोत्री के नाम से जाना जाता है. हर साल इन चार धाम की यात्रा करने देश के कोने कोने से करोडो लोग Uttarakhand आते है. इसी Uttarakhand में सिक्खों का पवित्र स्थान हेमकुंड साहिब भी मौजूद है. इन Chardham के आलावा Haridwar और Rishakesh जैसी पवित्र जगह भी इसी Uttarakhand में मौजूद है. और भी बहुत सी ऐसी जगह Uttarakhand में मौजूद है. जो आपके भटके हुवे मन को जरूर शांति देगी.

मेरी आज की पोस्ट Char Dham Yatra से जुडी है तो अपनी आज की पोस्ट के द्वारा मैं आपको केवल Char Dham Yatra से जुडी ही जानकारी दूंगा। लेकिन मेरी कोसिस रहेगी की आने वाले टाइम में मैं आप सभी के बिच Uttarakhand में मौजूद उन सभी स्थान की जानकारी दू. जहा आप सभी को एक बार जरूर आना चाहिए.

Char Dham Yatra Opening Date - चार धाम यात्रा शुरू होने का समय 

Uttarakhand में मौजूद Char Dham Yatra Opening Date हर साल May से शुरू होकर November तक चलती है. चारो धामों के कपाट हर साल May के शुरू में सभी भक्तो के लिए खोल दिए जाते है. सबसे पहले Yamunotri or Gangotri Dham के कपाट खोले जाते है. उसके बाद Kedarnath Dham और सबसे लास्ट में Badrinath Dham के कपाट खोले जाते है.

अब चुकी 2017 चल रहा है. तो Char Dham Yatra Opening Date 2017 इस प्रकार है.

  • Yamunotri Dham Temple Opening Date 28 April and Closing Date 21 October (Bhaiya Dooj)
  • Gangotri Dham Temple Opening Date 28 April and Closing Date 19 October (Diwali)
  • Kedarnath Dham Temple Opening Date 03 May and Closing Date 21 October (Bhaiya Dooj)
  • Badrinath Dham Temple Opening Date 06 May and Closing Date 30 September (Vijaya Dashami)
यह 2017 की वो Latest Date है जिसमे चारो धामों के कपाट को उन लाखो करोडो लोगो के लिए खोल दिया जायेगा। जो हर साल इन चारो धामों की यात्रा करते है. इस बार चारधाम यात्रा में से एक धाम पर हमारे माननीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी भी आ रहे है.

आगामी 3 मई को Kedarnath Dham के कपाट खुलने के Time प्रधान मंत्री जी Kedarnath Dham में ही मौजूद होंगे. और वो कपाट खुलने के बाद केदारनाथ जी के दर्शन भी करेंगे। प्रधान मंत्री के अलावा हमारे देश के राष्ट्रपति भी बद्रीनाथ के दर्शन कपाट खुलने के टाइम दर्शन करेंगे.

हर साल लाखो करोडो लोग Chardham की Yatra करते है. अब मैं आपको Step by Step बताऊंगा कि आप किस तरह अपनी चारधाम यात्रा की शुरुआत कर सकते। Char Dham Yatra शुरू करने का सबसे पहला पड़ाव मेरा Haridwar ही है. जो लोग Char Dham या किसी भी धाम की यात्रा पर जाते है. वो लोग सबसे पहले Haridwar ही आते है.

हिमालय पर्वत की तलहटी में बसा Haridwar नगर एक धार्मिक शहर है. चारधाम की यात्रा करने से पहले सबसे पहले यात्री इसी शहर में आकर गंगा मइया के पवित्र जल में स्नान करके अपनी यात्रा की शुरुआत करते है. वैसे तो आपको Haridwar से ही चारधाम यात्रा के लिए बहुत सी गाड़िया मिल जाएँगी। लेकिन इस बार उत्तराखंड की सरकार ने चारधाम यात्रा के लिए अलग से बसों का इंतजाम भी किया है. अगर आपको बस से यात्रा करनी है तो हरिद्वार के बस अड्डे से आपको चारधाम के लिए बस भी बहुत ही आराम से मिल जाएगी.

अब बात करते है आखिर इन चारो धामों की दुरी हरिद्वार से कितनी है और आप किसी भी धाम पर कैसे पहुंच सकते हो. ध्यान रहे यहाँ मैं आपको Haridwar से सभी Char Dham की दूरिया बताऊंगा।

Yamunotri Dham ki Jankari 

yamunotri dham
yamunotri dham
Char Dham Yatra पर जाने वाले यात्री को सबसे पहले Yamunotri Dham के दर्शन कराए जाते है. Haridwar से Yamunotri धाम की दुरी 247 K.M. के करीब है. हरिद्वार से Yamunotri Dham जाते टाइम रस्ते में ऋषिकेश, नरेन्द नगर, चम्बा, टिहरी, धरासू, बड़कोट, श्याना चटटी, जानकी चटटी नामक जगह भी पड़ती है. जहा आपको Uttarakhand के मनमोहक दृश्य देखने का मौका मिलेगा,

Yamunotri Dham समुन्द तल से 3170 की उचाई पर मौजूद है. ग्रीष्म ऋतू में यमुनोत्री धाम का मौसम दिन में सुहावना रहता है. और रात में यहाँ का मौसम ठंडा रहता है. सर्दियों के मौसम में यहाँ बर्फवारी होती है. इसलिए आप सभी चारधाम यात्रा के टाइम अपने साथ गर्म कपड़े जरूर रखे.

Gangotri Dham Yatra ki Jankari

Gangotri Dham
Gangotri Dham
Chard ham Yatra का दूसरा धाम Gangotri Dham है. Yamunotri Dham जाने के बाद यात्री Gangotri Dham के दर्शन करते है. Yamunotri से Gangotri Dham की दुरी 228 किलोमीटर है. यमुनोत्री से गंगोत्री जाते हुवे आपको जानकीबाई चटटी, श्याना चटटी, बड़कोट, धरासू, उत्तरकाशी, मनेरी, भटवाड़ी, हरसिल, लंका, भैरोघाटी से होते हुवे गंगोत्री जाना होता है. जो मैंने आपको ऊपर जगह बताई है वो सभी जगह आपको रास्ते में मिलेगी।
Gangotri Dham हिमालय पर्वत पर 3150 मीटर की उचाई पर मौजूद है. यहाँ का मौसम भी ठंडा ही रहता है. यहाँ भी आपको गर्म कपड़ो की जरूरत पड़ती है.

Kedarnath Dham Yatra ki Jankari

kedarnath dham
kedarnath dham
Char Dham Yatra में तीसरा धाम Kedarnath जी का है. Gangotri से Kedarnath की दुरी 347 किलोमीटर के आसपास है Gangotri से Kedarnath जाते हुवे आपको हरसिल, भटवाड़ी, उत्तरकाशी, घनसाली, चिरवाटिया, तिलवाड़ा, गुप्तकाशी, फाटा, रामपुर, सीतापुर, सोनप्रयाग और गौरीकुंड होते हुवे पैदल यात्रा करके Kedarnath Dham जाना होता है.
मैंने पिछले साल ही अपनी Kedarnath Dham Yatra पूरी की है. मेरी केदारनाथ यात्रा को आप यहाँ क्लीक करके देख सकते हो.

Badrinath Dham Yatra ki Jankari

badrinath dham
badrinath dham
Char Dham में सबसे लास्ट का धाम Badrinath Dham है. Kedarnath Dham की यात्रा पूरी करने के बाद सभी यात्री Badrinath Dham के दर्शन करने के लिए आगे बढ़ते है. Badrinath Dham के रास्ते में गौरीकुंड, सोनप्रयग, फाटा, गुप्तकाशी, रूद्र प्रयाग, गोचर, कर्ण प्रयाग, नन्द प्रयाग, चमोली, पीपल कोटी, गरुड़ गंगा, जोशीमठ, विष्णु प्रयाग, पाण्डु केशवर के बाद हनुमान चटटी नामक जगह आती है.

Badrinath Dham हिमालय पर्वत पर 3150 मिटेर की उचाई पर मौजूद है. यहाँ का मौसम भी ठंडा ही रहता है हर धाम की तरह यहाँ भी जबरदस्त बर्फवारी होती है.
Char Dham Yatra Ceshback Offer Click Now
यह वो Char Dham ki Yatra है जो हरिद्वार से शुरू होकर Haridwar पर ही खतम होती है. वैसे तो हर साल मई में चारधाम की यात्रा शुरू होती है. और चारधाम यात्रा शुरू होते ही देश के कोने कोने से लोग हरिद्वार आकर अपनी यात्रा की शुरुआत करते है. मई के महीने में ज्यादा भीड़ होने की वजह से सभी धाम में दर्शन करने में परेशानी का सामना करना पड़ता है.

अगर आप इन Charo Dham या किसी एक Dham की Yatra करना चाहते है. तो मानसून के बाद का मौसम सबसे अच्छा होता है. आप सभी को Off सीजन में यात्रा करने में पूरा आनंद मिलेगा। अब हम बात करते है Char Dham Yatra करते टाइम हमे किन किन बातो पर ध्यान रखना है.

Char Dham Yatra करते टाइम ध्यान रखने वाली बाते


  • यात्रा शुरू करने से पहले अपने साथ सभी गर्म कपडे जैसे टोपे, दस्ताने, मफरल, स्वेटर, जैकेट, गर्म शॉल जरूर रखे. क्युकी इन सभी धाम का मौसम ठंडा ही रहता है.
  • यात्रा शुरू करने से पहले सभी तरह की दवाइयां अपने पास जरूर रखे. क्युकी पहड़ो पर पहुंचते ही मौसम ठंडा हो जाता है. जिसकी वजह से जुखाम और सरदर्द जैसी समस्या आ जाती है.
  • यात्रा शुरू करने से पहले अपने Mobile के लिए Power Bank अपने पास जरूर रखे. साथ ही जरुरी गेजेट्स भी अपने साथ ही रखे. 
  • यात्रा शुरू करने से पहले अपने साथ खाने पिने की जरूरत का समान भी रखे. जो कि आपके किसी भी टाइम काम आ सकता है.
  • यात्रा शुरू करने से पहले एक डिजिटल कैमरा भी अपने पास जरूर रखे ताकि मोबाइल के साथ साथ कैमरे में भी आप उत्तराखंड की खूबसूरत वादियों को अपने पास सेफ रख सको.
  • यात्रा शुरू करने से पहले एक पैन ड्राइव में भगवान के भजन जरूर करे. ताकि रास्ते में गाड़ी के अंदर आप अपनी पसंद के भजन चला कर अपनी यात्रा को और यादगार बना सको.   
यह वो छोटी छोटी बाते है जो आपको Char Dham Yatra शुरू करने से पहले ध्यान में रखनी है. उम्मीद है मेरी आज की यह पोस्ट आप सभी के बहुत काम की साबित होगी। मेरे बहुत से विजिटर ने मुझे Char Dham Yatra Ki Jankari Hindi Me देने के लिए बोला था. इसलिए अपने सभी विजिटर और उन यात्री के लिए अपनी आज की पोस्ट लिखी है. जिनका मन Chardham की यात्रा पर जाने का करता है.

आप में से कोई भी Char Dham की Yatra बहुत ही आराम से कर सकता है. तो अपनी Life में से कुछ Time Char Dham Yatra के लिए भी निकालिए। क्युकी इन चार धामों की यात्रा करके आपको मन की ऐसी शांति मिलेगी। जिसकी आप कल्पना भी नहीं कर सकते.

आज के लिए बस इतना ही आगे भी आप लोगो के लिए Char Dham Yatra ki jankari Hindi Me लाता रहूँगा। ताकि आप सभी एक बार हमारे Utarakhand में भी घूमने आये. और यहाँ की खूबसूरती को कुछ खट्टी मीठी यादो को अपने साथ अपने घर ले जाये.             
Share To:

Mayank Bhardwaj

                    ------------चेतावनी----------- 
इस profile में लिखी गयी सारी बातें सत्य घटना पर आधारित हैं । इन बातों का किसी और व्यक्ति/घटना से किसी भी प्रकार से मिलना (वैसे किसी से मिलेगी नही) महज़ एक संयोग समझा जाएगा । ********************** मैं एक नम्बर का लुच्चा, लफंगा, आवारा, बद्तमीज़, नालायक, बदमाश, दुष्ट, पापी, राक्षस (और जो बच गया हो उसे भी जोड़ लो) कतई नही हूँ यार । हाँ दारू, सुट्टा, गाँजा, अफ़ीम, हेरोइन वगैरह……अबे ये सब भी नही पीता हूँ यार मैं बहुत होनहार , सीधा-साधा , सबको प्यार करने वाला , नेक दिल , ईमानदार, हिम्मती, शरीफ़ (अबे पूरे शरीर से शराफ़त टपकती है भाई), भोलाभाला (बस भोला हूँ भाला वगैरह नही रखता यार………अबे आदिवासी ठोड़े ही हूँ) लडका हूँ 

Post A Comment:

1 comments so far,Add yours

  1. Amazing!!! I like this website so much it's really awesome.I have also gone through your other posts too and they are also very much appreciate able and I'm just waiting for your next update to come as I like all your posts... well I have also made an article hope you go through it. Diwali 2017 , Diwali images , Diwali wishes

    ReplyDelete

क्या आप को ये पोस्ट अच्छा लगा तो अपने विचारों से टिपण्णी के रूप में अवगत कराएँ