blog information in hindi


इन दिनों बड़ी-बड़ी हस्तियां भी ब्लॉग लिखने की शौकीन हैं। फिल्म स्टार आमिर खान, शाहरुख खान हों या फिर अमिताभ बच्चन या फिर अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबामा सभी के अपने-अपने ब्लॉग हैं, जो नियमित रुप से अपने विचार ब्लॉग के माध्यम से लोगों से बांटते हैं। ब्लॉग्स की कतार में बड़े-बड़े मीडिया हाउस भी हैं। ब्लॉग एक ऐसा प्लेटफॉर्म हैं, जहां लोग अपने विचारों को पूरी दुनिया में पहुंचाते हैं। अपनी भावनाओं, अपनी कोई खास बात या फिर कोई नया अनुभव तक लोगों से यहां बांटा जा सकता है।

क्यों होने लगी है ब्लॉग की जरूरतः सुबह से शाम तक न जाने कितनी घटनाएं हमारी आंखों के सामने से गुजरती हैं। कुछ हमारे चेहरे में मुस्कान बिखेर देती हैं तो कुछ की वजह से हमारी भवें तन जाती हैं। हां, डायरी में लिखना हमारे पास एक विकल्प है, मगर हम भला उसे खुद तक सीमित क्यों रखें। ऐसी ही कुछ दिलचस्प कहानियों को दुनिया के सामने रखने में मदद करता है ब्लॉग। आप बहुत सी सोशल नेटवर्किग साइट्स से जुड़े होंगे, मगर ब्लॉग में अपने दोस्त बनाने के लिए आपको किसी को इनविटेशन नहीं भेजना पड़ता है। जो ब्लॉग में विजिट करेगा, वह अपने विचार उसमें जोड़ सकता है। पोस्टिंग के साथ-साथ आप पिक्चर अपलोड ऑप्शन में जाकर मनचाही जगह से तस्वीर अपलोड कर सकते हैं।

वेबसाइट और ब्लॉग में क्या है अंतरः ब्लॉग करीब-करीब वेबसाइट की तरह ही होता है। लेकिन वेबसाइट के लिए डोमेन यानी की वेबसाइट का नाम खरीदना पड़ता है और उसकी होस्टिंग लेनी होती है, मगर ये सब मुफ्त में नहीं मिलता। इसके लिए एक निश्चित रकम चुकानी पड़ती है। जब आप ब्लॉग के लिए जाते हैं तो आपके पास एक ईमेल अकाउंट होना ही काफी है।

ब्लॉग मुफ्त में तैयार हो जाते हैं। यह एक मिनी वेबसाइट की तरह काम करता है। यदि आपका ब्लॉग प्रसिद्ध हो जाता है तो एक दिन ऐसा भी आ सकता है कि जब आप इसी ब्लॉग से कमाई भी कर सकते हैं। बडीज, गूगल एडसेंस से यह सुविधा मिलती है कि हम अपने ब्लॉग पर विज्ञापन को ला सकते हैं और ब्लॉग की हर हिट पर कुछ रकम भी मिलती है। इंटरनेट पर ऐसी कई वेबसाइट्स हैं, जहां ब्लॉग बनाए जा सकते हैं, जिनमें ब्लॉगर डॉट कॉम और वर्डप्रेस काफी प्रसिद्ध हैं। ब्लॉगर डॉट कॉम अपना प्रोफाइल बनाना आसान है, वहीं यह सुविधा मुफ्त में मिलती है।

यह भी न भूलें: सबसे पहले ब्लॉग के डैशबोर्ड(पेज के दाईं ओर ऊपर) में जाकर एडिट प्रोफाइल में एड फोटो से अपनी अच्छी-सी तस्वीर अपलोड कर सकते हैं । आप चाहें, तो तस्वीर सीधे अपने कम्प्यूटर से या किसी वेबसाइट से भी अपलोड कर सकते हैं। अबाउट मी में आप अपने बारे में संक्षिप्त जानकारी देना न भूलना, क्योंकि यही आपके ब्लॉग पर तस्वीर के ठीक नीचे दिखाई देती है, जबकि ईमेल पता, उम्र, राशि आदि चीजें ब्लॉग पर नहीं दिखाई देतीं। आपको एड्रेस बार पर www.blogger.com को टाइप करना होगा। ध्यान रहे ब्लॉग बनाने के लिए आपके पास एक ईमेल अकाउंट होना जरूरी है। जब आपके सामने साइट ओपन हो जाता है, तो सामने बड़े फॉन्ट में ‘क्रिएट ए ब्लॉग’ लिखा आएगा, जो ब्लॉग बनाने की पहली सीढ़ी है।

अब आगे बढ़ने पर आप पहुंच जाएंगे अगले चरण में। यहां आपको दो अति महत्त्वपूर्ण जानकारी भरनी हैं। पहला ब्लॉग टाइटल व दूसरा ब्लॉग एड्रेस (यूआरएल)।
टाइटल ऐसा हो, जो ब्लॉग का प्रतिनिधित्व करता हो यानी कि टाइटल पढ़ते ही ब्लॉग का थीम समझ में आ जाए। ‘क्रिएट ए ब्लॉग’ पर क्लिक करने के बाद आपके सामने यह फॉर्म खुल जाएगा। फार्म पर सही-सही जानकारी भरने की जरूरत होती है।
अब आपका ब्लॉग बन कर तैयार है और आप उसमें अपनी पसंद और नापसंद को पोस्ट करना शुरू कर दें। इस चरण में आपके सामने स्टार्ट ब्लॉगिंग आएगा। उसे क्लिक करने के बाद पोस्टिंग का पेज खुल जाता है। पोस्टिंग से पहले यह तय कर लें कि भाषा अंग्रेजी होगी या फिर कोई दूसरी, क्योंकि अंग्रेजी में सीधी टाइपिंग की सुविघा है, जबकि हिंदी व अन्य भाषाओं के लिए आपको यूनीकोड जैसे किसी फॉन्ट की जरूरत होगी।
अपने कम्प्यूटर इंजीनियर की मदद से यूनीकोड को एक्टिवेट कर सकते हैं। या फिर गूगल की मदद से गूगल ट्रांसलेशन में रोमन में टाइप करके उसे हिंदी में बदल सकते हैं। अब आप अपने पोस्ट का प्रीव्यू भी देख सकते हैं। सबमिट करने के बाद आपका पोस्ट हर कोई देख पाएगा। अब इस पोस्ट पर आपके परिचित व दोस्त जो कमेंट करेंगे, उन्हें आप डैशबोर्ड पर जाकर ब्लॉग पर छपने के लिए अपनी सहमति दे सकते हैं।

ब्लॉग के बारे में ज्यादा जानकारी के लिए यहाँ क्लीक करे


Share To:

Mayank Bhardwaj

                    ------------चेतावनी----------- 
इस profile में लिखी गयी सारी बातें सत्य घटना पर आधारित हैं । इन बातों का किसी और व्यक्ति/घटना से किसी भी प्रकार से मिलना (वैसे किसी से मिलेगी नही) महज़ एक संयोग समझा जाएगा । ********************** मैं एक नम्बर का लुच्चा, लफंगा, आवारा, बद्तमीज़, नालायक, बदमाश, दुष्ट, पापी, राक्षस (और जो बच गया हो उसे भी जोड़ लो) कतई नही हूँ यार । हाँ दारू, सुट्टा, गाँजा, अफ़ीम, हेरोइन वगैरह……अबे ये सब भी नही पीता हूँ यार मैं बहुत होनहार , सीधा-साधा , सबको प्यार करने वाला , नेक दिल , ईमानदार, हिम्मती, शरीफ़ (अबे पूरे शरीर से शराफ़त टपकती है भाई), भोलाभाला (बस भोला हूँ भाला वगैरह नही रखता यार………अबे आदिवासी ठोड़े ही हूँ) लडका हूँ 

Post A Comment:

5 comments so far,Add yours

  1. मयंक भाई बहुत बढ़िया जानकारी दिए हो | विशेषकर नवीन ब्लोगरो के लिए और उन लोगो के भी बहुत काम आयेगी जो अपना ब्लॉग बनाना चाहते है | धन्यवाद |

    ReplyDelete
  2. आपकी रचनात्मक ,खूबसूरत और भावमयी
    प्रस्तुति कल के चर्चा मंच का आकर्षण बनी है
    कल (16/12/2010) के चर्चा मंच पर अपनी पोस्ट
    देखियेगा और अपने विचारों से चर्चामंच पर आकर
    अवगत कराइयेगा।
    http://charchamanch.uchcharan.com

    ReplyDelete
  3. हम्म अच्छी जानकारी है जी

    ReplyDelete
  4. बहुत खुब प्रस्तुति.........मेरा ब्लाग"काव्य कल्पना" at http://satyamshivam95.blogspot.com/ जिस पर हर गुरुवार को रचना प्रकाशित...आज की रचना "प्रभु तुमको तो आकर" साथ ही मेरी कविता हर सोमवार और शुक्रवार "हिन्दी साहित्य मंच" at www.hindisahityamanch.com पर प्रकाशित..........आप आये और मेरा मार्गदर्शन करे..धन्यवाद

    ReplyDelete
  5. उपयोगी जानकारी दी आपने...

    धन्यवाद !!!

    ReplyDelete

क्या आप को ये पोस्ट अच्छा लगा तो अपने विचारों से टिपण्णी के रूप में अवगत कराएँ