rescue mission games free online



दोस्तो, यहां तुम्हारे सामने एक मजेदार ऑनलाइन गेम के साथ में  फिर हाजिर हैं। कम्प्यूटर व इंटरनेट की मदद से तुम इस खेल को खेल सकते हो। खेल में कुछ सावधानियां भी रखनी होंगी, जिससे तुम ही इस खेल के विजेता कहलाओगे।
आज का ऑनलाइन गेम है ‘रेस्क्यू मिशन।’ दोस्तो, रेस्क्यू मिशन एक ऐसा गेम है, जिसके अंदर अपनी तेजी से चलती अंगुलियों के दम पर तुम्हें अपने आठ सदस्यों को बंधन से छुड़ाना होता है। जहां हर एक को छुड़ाने पर प्वॉइंट्स बढ़ जाते हैं, वहीं यदि कहीं दुश्मन की गोली का शिकार हो गए तो यही प्वॉइंट्स कट भी सकते हैं। खेलते समय कीबोर्ड पर तीर के निशान वाले बटनों से तुम्हें दाएं और बाएं जाने में मदद मिलती है, तो वहीं आप ऐरो-की से उछाल मार सकते हो। इसके अंदर खिलाड़ी को अपने मिशन को पूरा करने के लिए जो बंदूक मिलती है, उसको भी अपनी पसंद के मुताबिक कभी भी बदला जा सकता है।
दुश्मन की तरफ से आने वाले सिपाहियों की बंदूकों में चाकू लगा है, जो यदि लग गया तो तुम ढेर भी हो सकते हो। खेल में तीन लाइफ लाइन मिलती हैं। दुश्मन को ढेर करने का एक आसान तरीका भी है कि जब दुश्मन दिखाई दे जाए तो उस पर ताबड़तोड़ फायरिंग शुरू कर दो।
ज्यादा करीब जाने की कोई जरूरत नहीं है, बल्कि एक कदम पीछे हट कर ही फायरिंग करने का फायदा है। हर एक टुकड़ी के साथ में एक अफसर मौजूद है, जो सिर्फ तभी मरता है, जब गोली उसकी खोपड़ी को पार कर जाती है। कीबोर्ड पर मौजूद तीरवाले बटनों के साथ-साथ इस खेल में तुम्हें अपने माउस की भी मदद लेनी होती है। माउस के बाएं बटन को दबाने के साथ ही फायरिंग शुरू होती है। साथ ही माउस से ही फायरिंग की दिशा भी तय होती है।


तो चलो फिर देर किस बात की, अपने कम्प्यूटर की विंडो पर क्लिक करो और शुरू हो जाओ।


एक बात और है ध्यान देने की कि ऑनलाइन गेम में कई बार इंटरनेट की स्पीड कम होने की वजह से कुछ दिक्कत आ सकती है, इसलिए अगर खेल बीच-बीच में रुके तो घबराना नहीं। दोबरा से रिफ्रेश कर शुरू से गेम खेलना शुरू कर देना। यकीन मानो तुम्हें यह गेम खेल कर बहुत मजा आएगा।
Share To:

Mayank Bhardwaj

                    ------------चेतावनी----------- 
इस profile में लिखी गयी सारी बातें सत्य घटना पर आधारित हैं । इन बातों का किसी और व्यक्ति/घटना से किसी भी प्रकार से मिलना (वैसे किसी से मिलेगी नही) महज़ एक संयोग समझा जाएगा । ********************** मैं एक नम्बर का लुच्चा, लफंगा, आवारा, बद्तमीज़, नालायक, बदमाश, दुष्ट, पापी, राक्षस (और जो बच गया हो उसे भी जोड़ लो) कतई नही हूँ यार । हाँ दारू, सुट्टा, गाँजा, अफ़ीम, हेरोइन वगैरह……अबे ये सब भी नही पीता हूँ यार मैं बहुत होनहार , सीधा-साधा , सबको प्यार करने वाला , नेक दिल , ईमानदार, हिम्मती, शरीफ़ (अबे पूरे शरीर से शराफ़त टपकती है भाई), भोलाभाला (बस भोला हूँ भाला वगैरह नही रखता यार………अबे आदिवासी ठोड़े ही हूँ) लडका हूँ 

Post A Comment:

1 comments so far,Add yours

  1. वैसे मैं गेम खेलता तो नहीं हूँ ...चलो आप कहते है तो दो चार हाथ पाँव मार ही लेता हूँ |

    लिखते रहिये |

    ReplyDelete

क्या आप को ये पोस्ट अच्छा लगा तो अपने विचारों से टिपण्णी के रूप में अवगत कराएँ