बनकर धुल आप लोगो की जिन्दगी से बहुत दूर निकल जायेंगे


चलो हमारा भी कल सैकडा पूरा हो गया भाई कुछ करो, ये चीज है ऐसी यहाँ ब्लोगर साथी अपनी मर्जी से आते है और उनको ब्लॉग अच्छा लगता है तो फोल्लोवेर्स पर क्लीक करके ब्लॉग के साथ जुड़ जाते है पहले तो फोल्लोवेर्स पर ज्यादा ध्यान नहीं दिया पर.जब पारी 100 तक पहुची तो बड़ी ख़ुशी मिली शतकवीर बनने में बहुत दिनों से लग तो रहा था की मैं भी शतकवीर बनने वाला हु और कल ऐसा हो भी गया ये सब आपके प्यार, स्नेह से ये हुआ है, अभी यहीं रुकने का मन कतई नहीं है लेकिन कुछ कहा भी नहीं जा सकता कब जिन्दगी बदले और कब आप लोगो का साथ छुट जाये कब मेरा ब्लॉग बंद हो जाये जब तक आप लोगो के साथ हु आपके लिए एक से बढकर जानकारी लाता रहूँगा कभी कभी मुझे ऐसी कमेन्ट मिली जिसकी वजह से लगा की अपना ब्लॉग डिलीट कर के बंद ही कर दू लेकिन फिर लगा क्यों किसी की कमेन्ट की वजह से अपना ब्लॉग डिलीट करू और थोड़े दिनों की बात है उसके बाद न तो मेरी कोई पोस्ट होगी नहीं कोई ब्लॉग होगा चलते चलते बस एक बात बोलना चाहूँगा 

हम सूरज है आपकी दोस्ती के लिए पिघल जायेंगे 
बनकर दिया आपकी रहो में जल जायेंगे 
अगर ना हो पसंद हमारी दोस्ती और हमारा ब्लॉग तो बता देना 
बनकर धुल आप लोगो की जिन्दगी से बहुत दूर निकल जायेंगे 

11/Post A Review/Review

क्या आप को ये पोस्ट अच्छा लगा तो अपने विचारों से टिपण्णी के रूप में अवगत कराएँ

  1. शतक वीर होने की बधाई | इस सिलसिले को जारी रखिये |

    ReplyDelete
  2. बहुत अच्छा, ऐसे ही प्रयास करते रहिये, सफलता मिलटी रहेगी

    उम्मीद है आपको मेरे किसी कमेन्ट से अपने ब्लॉग को डिलीट करने का ख्याल नहीं आया होगा :)

    आप 200 का आंकड़ा भी जल्दी ही छुएंगे

    ReplyDelete
  3. बधाईयां स्वीकार करें और चलते रहें ।

    ReplyDelete
  4. ऐसी दिल तोङू बात मत कहो भाई । मुझे तो आपका
    ब्लाग बहुत पसन्द है । इसे मैंने ब्लाग वर्ल्ड काम पर
    सबसे ऊपर और स्पेशल जगह दी है ।
    बल्कि उन मूर्खता के कमेंट पर ये धूल डाल दो । ऐसे लोग
    हर जगह होते हैं । तो यहाँ भी हैं ।

    ReplyDelete
  5. आद.मयंक जी,
    सर्वप्रथम आपको इस फोल्लोवेर्स 100 की तरफ से बधाई!

    ReplyDelete
  6. "हम सूरज है आपकी दोस्ती के लिए पिघल जायेंगे
    बनकर दिया आपकी रहो में जल जायेंगे

    अगर ना हो पसंद हमारी दोस्ती और हमारा ब्लॉग तो बता देना बनकर धुल आप लोगो की जिन्दगी से बहुत दूर निकल जायेंगे"
    वैसे आपके इस विचर को पढ़ कर अच्छा लगा :a और देर से बधाई देने के लिए माफ़ी चाहता हूँ
    आपका छोटा भाई सवाई सिंह आगरा

    ReplyDelete
  7. शतक वीर होने की बधाई | इस सिलसिले को जारी रखिये ....

    ReplyDelete
  8. "थोड़े दिनों की बात है उसके बाद न तो मेरी कोई पोस्ट होगी नहीं कोई ब्लॉग होगा" ऐसी बात क्यों बोलते हो भाई?

    ReplyDelete
  9. सर्वप्रथम शतक वीर बनने पर बधाई | आप अपना ब्लॉग बंद करने का ख्याल छोड दे...क्योंकि हम लोग आपको ब्लॉग बंद करने ही नहीं देगे ...:n

    ReplyDelete
  10. शतक की बधाई ! आप बहुत उपयोगी जानकारी देते हैं ।
    कृपया ब्लाग बंद ना करें

    ReplyDelete

Post a Comment

क्या आप को ये पोस्ट अच्छा लगा तो अपने विचारों से टिपण्णी के रूप में अवगत कराएँ

Previous Post Next Post