Corrupted Hard Disk Tips In Hindi. एक हार्ड डिस्क जो की सिस्टम के अंदर या बाहर से जोड़ी जाती है आंशिक रूप से या पूर्ण रूप से विभिन्न कारणों से ख़राब हो सकती है। अक्सर ऐसी परिस्थति कभी नहीं होती, और अगर ऐसा होता है तो आप अपने स्टोर्ड किये हुए डेटा को एक्सेस नहीं कर पाएंगे। जैसे की हम जानते है कि डेटा सभी के लिए महत्वपूर्ण होता है चाहे वो व्यक्तिगत डेटा हो या व्यवसायिक डेटा। यदि आप अपने डेटा को एक्स्सेस नहीं कर पाते है तो ये आपके लिए एक गंभीर समस्या हो सकती है ।

Corrupted हार्ड डिस्क से डेटा को रिकवर करने के लिए कुछ टिप्स

Corrupted Hard Disk Tips In Hindi
Corrupted Hard Disk Tips In Hindi
एक हार्ड डिस्क जो की सिस्टम के अंदर या बाहर से जोड़ी जाती है आंशिक रूप से या पूर्ण रूप से विभिन्न कारणों से ख़राब हो सकती है। अक्सर ऐसी परिस्थति कभी नहीं होती, और अगर ऐसा होता है तो आप अपने स्टोर्ड किये हुए डेटा को एक्सेस नहीं कर पाएंगे। जैसे की हम जानते है कि डेटा सभी के लिए महत्वपूर्ण होता है चाहे वो व्यक्तिगत डेटा हो या व्यवसायिक डेटा। यदि आप अपने डेटा को एक्स्सेस नहीं कर पाते है तो ये आपके लिए एक गंभीर समस्या हो सकती है ।
जब आपकी हार्ड डिस्क सही से काम करना बंद कर दे तब आप हार्ड डिस्क डेटा रिकवरी एक्सपर्ट्स की सहायता से अपनी डिस्क को सही करा सकते है। इस तरह आप अपने डेटा को आसानी से प्राप्त कर सकते है। यदि आपकी ड्राइव छतिग्रस्त हो गयी हो तो आप अपना डेटा किसी अन्य फ़्लैश ड्राइव या हार्ड डिस्क में भी पुनः प्राप्त कर सकते हैं। मुख्य रूप से हार्ड डिस्क दो प्रकार से ही ख़राब हो सकती है: फिजिकल डैमेज और लॉजिकल डैमेज।
Corrupted हार्ड डिस्क के प्रकार:
आपकी हार्डडिस्क बिना किसी चेतावनी के भी खराब हो सकती है, हार्ड डिस्क के ख़राब होने की अधिक जानकारी के लिए हम आपको निचे कुछ टिप्स बताने जा रहे हैं ।
फिजिकल डैमेज - हार्डडिस्क के पार्ट्स में आयी कमी की वजह से फिजिकल डैमेज होता है। अक्सर हार्ड ड्राइव के Read/Write Head के टूटने से, हार्ड डिस्क के गिरने से, हार्ड डिस्क को अपने आप  खोलने से, या किसी अन्य पार्ट्स के टूटने से, इत्यादि की वजह से यह समस्या उत्पन होती है।
लॉजिकल डैमेज - हार्ड डिस्क में बिना किसी टूट फूट की वजह से जब आप अपने डेटा को एक्सेस नहीं कर पाते है तो इसका कारण लॉजिकल डैमेज होता है। फाइल सिस्टम में आये किसी वायरस की वजह से यह परिस्थिति बनती है । इस इस्थिति में आप BIOS के द्वारा डेटा को देख तो सकते है लेकिन उसे एक्सेस नहीं कर सकते। इसके अलावा आपको नो हार्ड ड्राइव का एक सन्देश भी दिखना शुरू हो जाता है। दोनों प्रकार से हार्ड डिस्क के ख़राब होने की इस्थति में डेटा का खो जाना एक आम समस्या है ।


हार्ड डिस्क फेलियर : प्रारंभिक लक्षण  
हम आपको हार्ड डिस्क विफलता के प्रारंभिक लक्षणों की पहचान कराते है:
  1. अगर आपकी हार्ड ड्राइव से लगातार अजीब सी आवाज आ रही है तो इस स्तिथि में हार्ड ड्राइव का उपयोग न करें और तुरंत लैपटॉप या कंप्यूटर को बंद कर दें । यदि एक्सटर्नल हार्ड ड्राइव है तो उसको सिस्टम से जोड़े नहीं।
  2. ब्लू स्क्रीन ऑफ़ डेथ एरर (यदि आपके सिस्टम पर नीली स्क्रीन दिख रही है तो आपकी ड्राइव फेल हो गयी है)
हार्ड ड्राइव विफलता से बचने के उपाय
ऊपर बताये गए किसी भी लक्षण का कोई भी संकेत आपको दिखाई दे तो,आपको डेटा लॉस से बचने के लिए हार्ड डिस्क का उपयोग तुरंत रोक देना चाहिए। यह दर्शाता है आपकी हार्डडिस्क में समस्या है और भविष्य में बड़ी मात्रा में डेटा हानि हो सकती है यदि आप इसका उपयोग बंद नहीं करते है।
ध्यान दे - विफलता के प्रारंभिक लक्षण समझना जरूरी है, आवश्यक है आप हार्डडिस्क क्रैश के लिए तैयार रहे। इसका मतलब यह नहीं है की इन स्वचालित लक्षणों से आपका सिस्टम क्रैश हो जायेगा और आपको डेटा रिकवरी की आवस्यकता होगी लेकिन निस्चित रूप से आपको डेटा हानि की स्तिथि का मुकाबला करने में मदद मिलेगी।

हार्डडिस्क रिकवरी के सुझाव -
यहाँ पर आप  Corrupted Hard Disk Recovery के लिये सबसे महत्वपूर्ण बात जानोगे। फिजिकल डैमेज और लॉजिकल डैमेज हार्ड ड्राइव से लॉस्ट डेटा को प्राप्त करने के लिए किस प्रकार के डेटा रिकवरी का विकल्प करना चाहिए ।
  1. यदि आपकी हार्ड ड्राइव में लॉजिकल प्रॉब्लम है तो आप उसका डेटा थर्ड पार्टी सॉफ्टवेर एप्लीकेशन की सहायता से रिकवर कर सकते है।
  2. यदि आपकी हार्ड ड्राइव में फिजिकल डैमेज की प्रॉब्लम है तो आपको अनुभवी डेटा रिकवरी पेशेवरों द्वारा हार्ड डिस्क रिकवरी सेवाओ के लिए जाना चाहिए।

जब आप सुनिश्चित कर लें की आपकी हार्ड ड्राइव में फिजिकल डैमेज की प्रॉब्लम है तब आपको स्टेलर डाटा रिकवरी की मदद लेनी चाहिए। Stellar Data Recovery आपको 100% डेटा रिकवरी की गारंटी देता है। अधिकांश मामलों में इन्होंने डेड हार्ड डिस्क में से महत्वपूर्ण डेटा को रिकवर किया है। इनकी पुरे भारत में 16 जगहों पर डेटा रिकवरी लैब उपलब्ध हैं ।

Share To:

Mayank Bhardwaj

                    ------------चेतावनी----------- 
इस profile में लिखी गयी सारी बातें सत्य घटना पर आधारित हैं । इन बातों का किसी और व्यक्ति/घटना से किसी भी प्रकार से मिलना (वैसे किसी से मिलेगी नही) महज़ एक संयोग समझा जाएगा । ********************** मैं एक नम्बर का लुच्चा, लफंगा, आवारा, बद्तमीज़, नालायक, बदमाश, दुष्ट, पापी, राक्षस (और जो बच गया हो उसे भी जोड़ लो) कतई नही हूँ यार । हाँ दारू, सुट्टा, गाँजा, अफ़ीम, हेरोइन वगैरह……अबे ये सब भी नही पीता हूँ यार मैं बहुत होनहार , सीधा-साधा , सबको प्यार करने वाला , नेक दिल , ईमानदार, हिम्मती, शरीफ़ (अबे पूरे शरीर से शराफ़त टपकती है भाई), भोलाभाला (बस भोला हूँ भाला वगैरह नही रखता यार………अबे आदिवासी ठोड़े ही हूँ) लडका हूँ 

Post A Comment:

0 comments so far,add yours

क्या आप को ये पोस्ट अच्छा लगा तो अपने विचारों से टिपण्णी के रूप में अवगत कराएँ