बच्चो की ऑनलाइन गतिविधियों पर नजर रखे


आज हर कोई इंटरनेट का इस्तेमाल कर रहा है चाहे बुजुर्ग हो या बच्चा हर व्यक्ति अपनी जरूरत की जानकारी ढूंढने से लेकर मनोरंजन तक इंटरनेट पर पूरी तरह निर्भर हो गया है।
इंटरनेट का सदुप्रयोग है, लेकिन जब इसका दुरूप्रयोग छोटे बच्चों द्वारा गलत कामों के लिए किया जाने लगा है। साइबर कैफे मे बच्चो को पोर्न साइट्‌स एक्सेस करते हुए देखना अब कोई आश्चर्यजनक बात नही है।
अभिभावको का ऐसे में चिंतित होना स्वाभाविक है। कामकाजी पेरेंटस के लिए तो यह चिंताजनक है जो उनकी अनुपस्थिति मे बच्चे घर पर इंटरनेट का गलत इस्तेमाल करना शुरू कर देते है। ऐसे मे अभिभावकों को विशेष सावधानी बरतने की आवश्कता होती है ताकि अपने बच्चो की ऑनलाइन गतिविधियों पर नजर रख सकें।

नेट पर कुछ ऐसे टूल्स और सोफ्टवेयर उपलब्ध है जिनके उपयोग से आप अपने बच्चो के नेट-यूज को बहुत हद तक कंट्रोल कर सकते है पेरेंटल कंट्रोल सोफ्टवेयर, फिल्टरिंग सोफ्टवेयर, वाचडॉग आदि कुछ ऐसी सुविधाएं है जिनके उपयोग से आप बहुत हद तक निश्चित हो सकते हैं।
पेरेंटल कंटेल सॉफटवेयर मे ऐसे कई फीचर्स है जो आपके बच्चो की ऑनलाइन डिटेल आपको दे सकते है तथा आपके बच्चे द्वारा एक्सेस की जाने वाली साइट्‌स के बारे मे भी जानकारी आपको मिल सकती है और भी बहुत कुछ है इस सोफ्टवेयर में
कंप्युटर पर बच्चो द्वारा गेम्स खेलने के लिए भी जम कर उपयोग किया जाता है यदि आपके बच्चो मे भी कंप्यूटर गेम्स के प्रति दीवानगी है तो यह सोफ्टवेयर आपके काम आ सकता है। इसके उपयोग से आप टाइम लिमिट सेट कर सकते है यह पुरी तरह आप पर निर्भर करेगा कि आप कितनी देर तक अपने बच्चों को कंप्यूटर का उपयोग करने की इजाजत देते है इन सॉफटवेयर की जानकारी आपको निचे दी गई साइट पर मिल जाएगी।
www.symantec.com
www.cyberpatrol.com
www.netnanny.com

2/Post A Review/Review

क्या आप को ये पोस्ट अच्छा लगा तो अपने विचारों से टिपण्णी के रूप में अवगत कराएँ

Post a Comment

क्या आप को ये पोस्ट अच्छा लगा तो अपने विचारों से टिपण्णी के रूप में अवगत कराएँ

Previous Post Next Post