आपके शरीर की कुछ ऐसी बाते जिसके बारे में आपको कम पता होगा

4
आज मैं आपको बताने जा रहा हू शरीर से जुडी ऐसी बाते जिसके बारे में शायद आप कम ही जानते हो

1.छींकते वक्त व्यक्ति की आंखे अवश्य ही बन्द होगी।
2.जीवन भर में 25 करोड़ बार आंखे झपकाते है।
3.24 घण्टे मे हम २२,999 बार सांस लेते है।
4.मनुष्यो को उंगलियो की छाप से पहचाना जा सकता है, उसी प्रकार जानवरो को उनकी नाक की छाप से
5.मनुष्य के शरीर मे इतना फास्फोरस होता है कि माचिस की 4 डिबियां बनाई जा सकती है।
6.क्रोध के लिए चेहरे की 43 मांसपेशिया सक्रिय होती है मुस्कराने के लिए 17 मांसपेशियां अर्थात क्रोध करने से मनुष्य की अधिक उर्जा व्यय होती है मुस्कराने से कम।
7.मनुष्य का दायां पैर बाएं की अपेक्षा कुछ अधिक लम्बा होता है
8.शरीर का सबसे सखत पदार्थ इनेमल होता है जो दांत की उपर परत पर चड़ा रहता है।
9.यदि आकाश में बादल छाये हों और हम खुले मे बैठें तो भी हमारी त्वचा काली पड सकता है क्योकि बादलो के कारण धूप तो हम तक नही पहुंचेगी किन्तु सूर्य की 80% घातक पराबैंगनी किरणें आर पार निकलकर हम तक पहुंच सकता है।

ये तो थी बात हमारे शरीर की अब मै आपको लेकर चलता हू ऐसे एअरपोर्ट पर जिसे आज तक ना तो आपने देखा होगा और ना ही उसके बारे मे कभी किसी से सूना होगा मुझे भी इसके बारे मे आज ही पता चला है कैरेबियन सागर मे स्थित है ‘किंगडम ऑफ नीदरलैंड’ के अधीन द्वीपीय देश ‘सैंट मार्टिन’। यहाँ पर स्थित है दुनियाँ का सबसे अजीब एयरपोर्ट ‘प्रिंसेज जूलियाना इंटरनेशनल एयरपोर्ट’। इस एयरपोर्ट मे अजीब यह है कि इसके रनवे के ठीक सामने एयरपोर्ट कैम्पस के बाहर ‘महो बीच’ स्थित है, जहां पर काफी लोग हमेशा मौजूद रहते हैं। और एयरपोर्ट पर जहाज उतरते समय इस बीच से कुछ ही मीटर की ऊंचाई से होकर गुजरते हैं। आप भी देखे उस एअरपार्ट को और बतायें कैसा लगा आपको ये अजीबो गरीब एअरपोर्ट













Post a Comment

4 Comments
* Please Don't Spam Here. All the Comments are Reviewed by Admin.

क्या आप को ये पोस्ट अच्छा लगा तो अपने विचारों से टिपण्णी के रूप में अवगत कराएँ

  1. Danger Airport Hai Bhai,

    www.hindishayri.co.cc

    ReplyDelete
  2. हरदत्त अहीर मयंक जी क्या खूब दिखाया है मन कर रहा था मैं वहां होता और ऊछल कर जहाज के पहियों को छूने की कौशिश कर रहा होता तो कितना अच्छा लगता.

    ReplyDelete

क्या आप को ये पोस्ट अच्छा लगा तो अपने विचारों से टिपण्णी के रूप में अवगत कराएँ

Post a Comment

#buttons=(Accept !) #days=(20)

Our website uses cookies to enhance your experience. Learn More
Accept !
To Top