Electronic Waste

अक्सर आपके बिच मैं पिछले काफी टाइम से stellar Data Recovery की टिप्स ला रहा हु जिसे आप यहाँ क्लिक करके देख सकते है आज की पोस्ट भी stellar Data Recovery services से जुडी है 
Electronic Waste
Electronic Waste

इलेक्ट्रॉनिक वेस्ट: एक मुद्दा जिस पर ध्यान देने की आवश्यकता है


सूचना प्रौद्योगिकी ने हमें बहुत से लाभदायक उत्पाद प्रदान किये हैं। GPS भी इन्ही में से एक उपकरण है जिसकी सहायता से हम दुनिया को आसानी से नेविगेट कर सकते हैं। दुर्भाग्य से, सूचना प्रौद्योगिकी के क्षेत्र में एक दूसरा पहलू भी है जैसे की इलेक्ट्रॉनिक वेस्ट । 

ई - वेस्ट 
आईटी उद्योग के छेत्र में बहुत सा वेस्ट बनता है; जो इलेक्ट्रॉनिक वेस्ट या ई- वेस्ट के रूप में जाना जाता है। ई - वेस्ट  दोषपूर्ण या अप्रचलित इलेक्ट्रिकल और इलेक्ट्रॉनिक उपकरणों का बना होता है। ई- वेस्ट के साथ प्रमुख समस्या यह है कि इसमें lead, cadmium and beryllium जैसी धातुओं की मात्रा अधिक होती है। ये सभी तत्व इकोलॉजिकल बैलेंस के लिए एक खतरा है, उचित ई - वेस्ट  प्रबंधन प्रणाली के बिना, ये सभी इलेक्ट्रॉनिक पार्ट्स / गैजेट्स लैंडफिल के लिए अपना रास्ता खुद बनाते हैं। आम तौर पर दुनिया का हर एक तीसरा देश दोषी है, जो इलेक्ट्रॉनिक वेस्ट से निपटने के लिए कोई उचित तरीका नहीं अपनाता। 

50 लाख टन
Sthiannopkao S and M. H. Wong, शोधकर्ताओं के अनुसार 50 लाख टन ई - वेस्ट प्रति वर्ष उत्पन हो रहा है, और आने वाले वर्षों में ई- वेस्ट के उत्पादन में वृद्धि होगी क्योंकि लोग इलेक्ट्रॉनिक उपकरणों की खरीद लगातार तेजी से कर रहे हैं। पर्यावरण संरक्षण एजेंसी के अनुमान के अनुसार वर्तमान में 15% से 20% तक ई- वेस्ट को पुनर्नवीनीकरण किया जा रहा है। इस तरह के चौंकाने वाले तथ्यों से हमें ई- वेस्ट से निपटने के लिए प्रभावशाली ई - वेस्ट  प्रबंधन प्रणाली की आवश्यकता है।  

पुराने हार्डवेयर को निपटाना
लैपटॉप, टैबलेट, रेडियो, मोबाइल फोन, कंप्यूटर ... एक नवीनतम मॉडल के आधार पर प्रतिस्थापित करने के लिए बाध्य हैं। आप पुराने इलेक्ट्रॉनिक उपकरणों के साथ क्या करते हो? जो पुराने उपकरणों से छुटकारा पाना चाहते, उनके लिए यह बेहतर है कि वो उन्हें रीसायकल संयंत्र या कारखाने में दे सकते हैं। वे यह सुनिश्चित करें कि इन इलेक्ट्रॉनिक उपकरणों को एक जिम्मेदार ढंग से पुनर्नवीनीकरण किया जा रहा है। वैसे, कई कंपनियों ने अपने ग्राहकों के लिए योजना बनायीं हुई है कि आप कोई भी पुराने इलेक्ट्रॉनिक डिवाइस को लौटा कर एक नया इलेक्ट्रॉनिक उपकरण खरीद सकते है। इस तरह किसी को भी एक नया उपकरण मिल जाता है और पुराना उपकरण निर्माता के पास चला जाता है जिसका वह पुनर्नवीनीकरण करता है।

स्मार्ट खरीददारी
इलेक्ट्रॉनिक कचरे को रोकने के लिए एक और तरीका है स्मार्ट खरीददारी। पहली बार में गुणवत्ता का ही चयन करें। 2 साल के बाद समाप्त हो जाने वाले दो सस्ते लैपटॉप खरीदने की बजाय 5 साल तक इस्तेमाल किया जाने वाला एक सभ्य लैपटॉप खरीदना पर्यावरण की दृष्टि से अधिक अनुकूल है। इसी तरह यह अन्य इलेक्ट्रॉनिक उपकरणों की खरीददारी के लिए भी लागू होता है। कहा जाता है: सस्ती खरीददारी अक्सर महंगी पड़ती है।

पर्यावरण के प्रति सोंच
हम पर्यावरण के प्रति सोंच का एक उदाहरण पेश कर रहे है। हम 2 कंपनी की बात करते हैं: कंपनी A और कंपनी B  
कंपनी A को पुरानी हार्ड ड्राइव को एक उच्च क्षमता वाली नए मॉडल की हार्ड ड्राइव के साथ बदलने की जरूरत है। पुरानी हार्ड डिस्क ड्राइव में गोपनीय डाटा है और कंपनियों ने उनको नष्ट करने का निर्णय लिया है। इस परिस्थिति में, जानकारी सुरक्षित है लेकिन नष्ट की हुई ड्राइव ही ई- वेस्ट का कारण बनता है। 
कंपनी B को भी एक ऐसी ही स्थिति का सामना करना पड़ा लेकिन वो डेटा का विनाश करने वाले सॉफ्टवेयर (जैसे Stellar Data Recovery द्वारा डेवलप्ड BitRaser) का उपयोग डेटा को पूरी तरह से मिटाने के लिए करती है। इस इस्थति में हार्ड डिस्क बिलकुल सही है और डेटा भी डिलीट हो गया है और हार्ड डिस्क को पुन: उपयोग किया जा सकता है; कंपनी एक अलग क्षेत्र में इन हार्ड डिस्क का उपयोग कर सकती है। यंहा पर कैसे हमने 2 अलग तरीके देखे, जिसमें कंपनी B की पारिस्थितिकी सोच ई- वेस्ट को कम कर देती है। इस तरह की पर्यावरण के प्रति सोंच को हमें पूरे समाज में अपनाना चाहिए।

निष्कर्ष
रीसाइक्लिंग के द्वारा हम इलेक्ट्रॉनिक उपकरणों का निराकरण कर के उन्हें पुन: इस्तेमाल करने योग्य बना सकते हैं और मुख्यत: प्राकृतिक पर्यावरण का संरक्षण कर सकते है। नए उत्पादों के निर्माण की वजह से होने वाले ग्रीनहाउस उत्सर्जन को ई- वेस्ट की रीसाइक्लिंग करके कम किया जा सकता है। Stellar Data Recovery, एक डेटा रीकवरी सेवाओं और सॉफ्टवेयर के लिए एक अग्रणी कंपनी है जो ई- वेस्ट की रीसाइक्लिंग को बढ़ावा देती है। हमारे शोधकर्ता और डेवलपर्स INDIA और NETHERLAND में ई- वेस्ट के समाधान और रीसाइक्लिंग उपकरण प्रदान करने के लिए प्रतिबद्ध है।

Share To:

Mayank Bhardwaj

                    ------------चेतावनी----------- 

इस profile में लिखी गयी सारी बातें सत्य घटना पर आधारित हैं । इन बातों का किसी और व्यक्ति/घटना से किसी भी प्रकार से मिलना (वैसे किसी से मिलेगी नही) महज़ एक संयोग समझा जाएगा । ********************** मैं एक नम्बर का लुच्चा, लफंगा, आवारा, बद्तमीज़, नालायक, बदमाश, दुष्ट, पापी, राक्षस (और जो बच गया हो उसे भी जोड़ लो) कतई नही हूँ यार । हाँ दारू, सुट्टा, गाँजा, अफ़ीम, हेरोइन वगैरह……अबे ये सब भी नही पीता हूँ यार मैं बहुत होनहार , सीधा-साधा , सबको प्यार करने वाला , नेक दिल , ईमानदार, हिम्मती, शरीफ़ (अबे पूरे शरीर से शराफ़त टपकती है भाई), भोलाभाला (बस भोला हूँ भाला वगैरह नही रखता यार………अबे आदिवासी ठोड़े ही हूँ) लडका हूँ 

Post A Comment:

1 comments so far,Add yours

  1. आपकी इस प्रविष्टि् के लिंक की चर्चा कल शुक्रवार (06-05-2016) को "फिर वही फुर्सत के रात दिन" (चर्चा अंक-2334) पर भी होगी।
    --
    सूचना देने का उद्देश्य है कि यदि किसी रचनाकार की प्रविष्टि का लिंक किसी स्थान पर लगाया जाये तो उसकी सूचना देना व्यवस्थापक का नैतिक कर्तव्य होता है।
    --
    चर्चा मंच पर पूरी पोस्ट नहीं दी जाती है बल्कि आपकी पोस्ट का लिंक या लिंक के साथ पोस्ट का महत्वपूर्ण अंश दिया जाता है।
    जिससे कि पाठक उत्सुकता के साथ आपके ब्लॉग पर आपकी पूरी पोस्ट पढ़ने के लिए जाये।
    --
    शुभकामनाओं के साथ
    सादर...!
    डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री 'मयंक'

    ReplyDelete

क्या आप को ये पोस्ट अच्छा लगा तो अपने विचारों से टिपण्णी के रूप में अवगत कराएँ