नया साल आने वाला है। हर किसी को नए साल का इन्तजार होगा बहुत से लोगो को आने वाले नए साल के कलेंडर का भी इन्तजार रहता है। आज मैं उन्ही लोगो के लिए एक ऐसी साईट लेकर आया हु जिस पर जाकर वो साल 2013 का कैलेन्डर फ्री में डाउनलोड कर सकते है। वो भी भारतीय पर्व और त्योहारों की तारीखों के साथ। जिस साईट का लिंक में आपको दे रहा हु वहा आपको और भी बहुत कुछ मिलेगा जेसे कि अगर आपका ठंड में कही घुमने का विचार है तो आप इस साईट के जरिये उस जगह के मोसम का हालचाल भी जान सकते हो इस साईट पर लगभग आपको मोसम की सही जानकारी मिल जाएगी।

 वेसे जहा मेरा इस बार ठंड में घुमने का विचार है। वहा के मोसम के हाल चाल मेने जान लिए है। जिस दिन मेरा घुमने का विचार है, उस दिन उस जगह बहुत ठंड और बर्फ पड़ने वाली है। ऐसे बर्फीले मोसम में घुमने का मजा और ठंड में कापते कापते ठंडी ठंडी आईसक्रीम खाने का मजा ही कुछ और है। मेरी पिछली यात्रा तो आपको याद ही होगी अगर नहीं याद तो आप यहाँ क्लीक करके देख सकते है मुझे ठंड में ही घुमने का मजा आता है गर्मियो में तो हरिद्वार से बाहर जाने का तो मन भी नहीं करता। खेर मेरी बात छोडो।

इस बेहतरीन साईट पर जाने के लिए यहाँ क्लीक करे जहा आपको मिलेगी हर देश के मोसम से जुडी एक से बढ़कर एक जानकारी। अगर आप आने वाले नए साल 2013 का कैलेंडर डाउनलोड करना चाहते है तो आपको यहाँ क्लीक करके 2013 के कैलेंडर को पीडीएफ फाइल के रूप में डाउनलोड कर सकते हो 
Share To:

Mayank Bhardwaj

                    ------------चेतावनी----------- 
इस profile में लिखी गयी सारी बातें सत्य घटना पर आधारित हैं । इन बातों का किसी और व्यक्ति/घटना से किसी भी प्रकार से मिलना (वैसे किसी से मिलेगी नही) महज़ एक संयोग समझा जाएगा । ********************** मैं एक नम्बर का लुच्चा, लफंगा, आवारा, बद्तमीज़, नालायक, बदमाश, दुष्ट, पापी, राक्षस (और जो बच गया हो उसे भी जोड़ लो) कतई नही हूँ यार । हाँ दारू, सुट्टा, गाँजा, अफ़ीम, हेरोइन वगैरह……अबे ये सब भी नही पीता हूँ यार मैं बहुत होनहार , सीधा-साधा , सबको प्यार करने वाला , नेक दिल , ईमानदार, हिम्मती, शरीफ़ (अबे पूरे शरीर से शराफ़त टपकती है भाई), भोलाभाला (बस भोला हूँ भाला वगैरह नही रखता यार………अबे आदिवासी ठोड़े ही हूँ) लडका हूँ 

Post A Comment:

6 comments so far,Add yours

  1. इस साल दुबई यात्रा कर लीजिये। यहाँ भी सर्दी का मजा ही कुछ और है।

    ReplyDelete
  2. इस बेहतरीन साईत के लिऐ बहुत बहुत धन्यवाद

    ReplyDelete
  3. How to memorize calendar for 10000 years
    माह कूट छठ जोड़ जोड़ पंजा खाली तीन।
    पंच अकेला चोर छटा है जोड़ दिशाएँ हीन॥
    अर्थ= जन से दिस 6,2,2,5,0,3,5,1,4,6,2,4,
    (टे सं-1)
    शती के ले लो  गिनती दो जोड़ो पूरा चौथाई। 
    कूट महीना जोड़ो इसमें तिथि को देय मिलाई॥
    करो सात से इसे विभाजित ले लो इसका शेष।
    रवि शून्य है छठा शनि क्रम से यही विशेष ॥
    (टे सं-2)
    उदाहरण:  दिनांक 7-03-2011 को कौन सा दिन था:
    शती की दो गिनती =11,  11का  चौथाई=2, मार्च का कूट=2,
    तिथि=7 योग=22
    योग का सात  से भाग करने पर शेष= 1 (सोमवार)

    (नोट: 20 वीं सदी की तिथि के लिए योग में एक जोड़ दो तथा फरवरी अधिवर्ष की तिथि में एक घटा दो, ध्यान रखें सन 2100 अधिवर्ष नहीं है क्योंकि शताब्दी का 400 से भाग होना आवश्यक है।) अन्य शताब्दी के लिये जोडें/ घटायेँ :2000=0, 1900=1, 1800=3, 1700=5 2000=0, 2100= -2, 2200= -4
    मेमोरी गुरु की पुस्तक " भूलना भूल जाओगे" से उद्धरित

    ReplyDelete

क्या आप को ये पोस्ट अच्छा लगा तो अपने विचारों से टिपण्णी के रूप में अवगत कराएँ