network cable color coding

वर्तमान समय लैपटॉप, नेटबुक तथा पर्सनल कंप्यूटर का है और कई घरों में एकसे अधिक लैपटॉप तथा कंप्यूटर मौजूद है। ऐसे मे पीसी तथा लैपटॉप का डाटा परस्पर टंसफर करना है तो इसके लिए दोनो कंप्यूटर को एक ही नेटवर्क से जोडने के लिए इथरनेट स्विच अथवा रूटर की जरूरत पड़ती है अगर आपके पास में ब्रोडबेंड कनेक्सन है तो इसके लिए भी नेटवर्क केबल की जरुरत पड़ती है अगर आप इसे बजार से लेने जाओगे तो इसकी कीमत करीब दो हजार रूपए तक पड सकती है लेकिन यहां मै आपको ऐसी तरकीब बता रहा हु जिसमे 100 से 150 रूपए खर्च आएगा और आप उससे अपना नेट भी चला सकते हो और डाटा टंसफर भी कर पाओगे।
क्रॉस केबल के जरिए यह काम आसान किया जा सकता है। इसके लिए आप आरजे45 कनेक्टर, कैट्‌स5 इथरनेट केबल तथा आरजे45 क्रिम्पिंग टूल ले जिनके चित्र आपको निचे दिखाई दे रहे है।




इसके बाद कैट्‌स5 इथरनेट केबल को काटें और दोनो ओर से इसे ढाई सेंटीमीटर तक काट ले कैट्‌स5 इथरनेट केबल के चारों तारो को अलग अलग करें क्रॉस केबल के लिए कोई भी दो तार चाहिए इसलिए ब्लू तथा ऑरेंज कलर की वायर रखें और काट लें। अब उन्हे व्हाइट ऑरेज, ऑरेंज व्हाइट ब्लू ब्लू के क्रम में लगाकर सभी तारों को बराबर कर लें। आखिरी तार को अलग कर लें और आधा सेंटीमीटर का गैप रखें। शेष तीन तारो को आरजे45 कनेक्टर के 1,2,3, नंबर में कनेक्ट करे तथा आखरी वायर को भी आरजे45 कनेक्टर 6 नंबर से जोड़ दें और सावधानी से उसे कनेक्टर पर लगा दें। रंगो के हिसाब से ही तार लगाए। जैसे निचे चित्र मे दिख रहा है


कनेक्टर पर वायर ठीक तरह से लगाने के बाद कनेक्टर को जोड़ने के टूल को दबाएंगे तो आपको क्लिक की आवाज सुनाई देगी तो समझ लीजिए तार ठीक तरह से जुड गया है। दूसरी तरफ से तार जोड ने के लिए यही तरीका अपनाएं। इस समय कलर आर्डर होगा व्हाइट ब्लू ब्लू व्हाइट ऑरेंज ऑरेंज रहना चाहिए, अब तार को कंप्यूटर के इथरनेट पोर्ट से जोड ले।
मैं निचे उन दोनों केबलो के कलर कोड दे रहा हु जिसे देख कर आप बड़ी आसानी से नेटवर्क केबल बना सकते हो

ये पहली नंबर की वायर का कलर कोड है
RJ45 Pin #Wire Color
(T568A)
Wire Diagram
(T568A)
10Base-T Signal
100Base-TX Signal
1000Base-T Signal
1White/Greenwhite/greenTransmit+BI_DA+
2GreengreenTransmit-BI_DA-
3White/Orangewhite/orangeReceive+BI_DB+
4BlueblueUnusedBI_DC+
5White/Bluewhite/blueUnusedBI_DC-
6OrangeorangeReceive-BI_DB-
7White/Brownwhite/brownUnusedBI_DD+
8BrownbrownUnusedBI_DD-

ये दूसरी नंबर की वायर का कलर कोड है

RJ45 Pin #Wire Color
(T568B)
Wire Diagram
(T568B)
10Base-T Signal
100Base-TX Signal
1000Base-T Signal
1White/Orangewhite/orangeTransmit+BI_DA+
2OrangeorangeTransmit-BI_DA-
3White/Greenwhite/greenReceive+BI_DB+
4BlueblueUnusedBI_DC+
5White/Bluewhite/blueUnusedBI_DC-
6GreengreenReceive-BI_DB-
7White/Brownwhite/brownUnusedBI_DD+
8BrownbrownUnusedBI_DD-


केबल कंप्यूटर में लगाने के बाद आपका ब्रोडबेंड का कनेक्सन तो चल जायेगा लेकिन आपको दो या दो से ज्यादा कंप्यूटर को आपस में जोड़ना तो इसके लिए आपको दोनो कंप्यूटर में नेटवर्किग कार्ड प्रॉपर्टी सेक्शन में सेटिंग की जरूरत है। दोनो कंप्यूटर का नाम पहले बदल दें और इसके लिए डेस्कटॉप पर माई कंप्यूटर पर तथा प्रॉपर्टीज पर क्लिक कर कंप्यूटर का नाम टेब सिलेक्ट करें और चेंज बटन पर जाएं। दोनो पर अलग अलग नाम डालें। चेंज के लिए अप्लाई करने पर सिस्टम फास्ट हो जाएगा। रिस्टार्ट चुनें



और नेटवर्क सेक्शन मे जाकर इथरनेट कार्ड पर क्लिक कर प्रॉपर्टीज चुनें और इंटरनेट प्रोटोकॉल पर दो बार क्लिक करें। आईपी एड्‌ेस के लिए रेडियो बटन पर क्लिक करें। सेटिंग पूरी हो जाएगी। सेटिंग पूरी होने के बाद आपके कंप्यूटर नेटवर्क केबल से आपस में जुड़ जायेंगे 
Share To:

Mayank Bhardwaj

                    ------------चेतावनी----------- 
इस profile में लिखी गयी सारी बातें सत्य घटना पर आधारित हैं । इन बातों का किसी और व्यक्ति/घटना से किसी भी प्रकार से मिलना (वैसे किसी से मिलेगी नही) महज़ एक संयोग समझा जाएगा । ********************** मैं एक नम्बर का लुच्चा, लफंगा, आवारा, बद्तमीज़, नालायक, बदमाश, दुष्ट, पापी, राक्षस (और जो बच गया हो उसे भी जोड़ लो) कतई नही हूँ यार । हाँ दारू, सुट्टा, गाँजा, अफ़ीम, हेरोइन वगैरह……अबे ये सब भी नही पीता हूँ यार मैं बहुत होनहार , सीधा-साधा , सबको प्यार करने वाला , नेक दिल , ईमानदार, हिम्मती, शरीफ़ (अबे पूरे शरीर से शराफ़त टपकती है भाई), भोलाभाला (बस भोला हूँ भाला वगैरह नही रखता यार………अबे आदिवासी ठोड़े ही हूँ) लडका हूँ 

Post A Comment:

6 comments so far,Add yours

  1. यह काम तो हमने पहले से ही किया हुआ है मगर तारों के लगाने का तरीका ठीक से नही आता था। इसलिए कभी-कभी गलती हो जाती थी!
    आपकी पोस्ट से यह काम आसान हो गया है!

    ReplyDelete
  2. जानकारी तो अच्छी है मगर शायद मेरे बस का नही। देखती हूँ। शुभकामनायें।

    ReplyDelete
  3. बहुत अच्छी जानकारी

    ReplyDelete
  4. बहुत उपोयोगी जानकारी |

    ReplyDelete
  5. अच्छी जानकारी दी आपने वैसे मैं भी अपने कंप्यूटर सेंटर में ऐसा करने कि सोच रहा था करके देखूंगा !

    ReplyDelete

क्या आप को ये पोस्ट अच्छा लगा तो अपने विचारों से टिपण्णी के रूप में अवगत कराएँ