google-docs information in hindi


गूगल डॉक्स एक पावरफुल ऑनलाइन टूल है, जिसकी मदद से आप ऑनलाइन भी शेयर कर सकते है। आप जब भी इस डॉक्यूमेंट में कोई चेंज करेंगे तो वह आपके दोस्तों को भी अपडेटेड ही मिलेंगा। आप अपनी अभी की एक्सल, वर्ड, ओपन ऑफिस फाइल, एचटीएमएल या टेस्क्ट फाइल को अपलोड या आप जो भी फाइल ऑनलाइन बनाते है उनको डाउनलोड भी कर सकते है। आप अपने डॉक्यूमेंट्‌स को भी अपने दोस्तों और सहयोगियों के साथ मिलकर ऑनलाइन एडिट कर सकते हैं यानी अगर आप अपने कंप्यूटर पर और आपका सहयोगी अपने कंप्यूटर पर एक ही डॉक्यूमेंट में काम कर रहे हैं तो आप एक दूसरे की एडिटिंग को भी देख सकते हैं। उसके अलावा आप यह भी देख सकते है कि किसने कब उस डॉक्यूमेंट को चेंज किया। अगर आप चाहें तो किसी भी पुराने वर्जन पर वापस भी जा सकते हैं। अपने डॉक्यूमेंट को किसी वेब पेज की तरह ऑनलाइन पब्लिश करने के साथ साथ किसी भी ब्लाग पर पोस्ट भी कर सकते हैं। इन डॉक्यूमेंट्‌स को सीधे ही किसी को भी ई-मेल किया जा सकता है। एक्सल को गूगल डॉक्स में स्प्रेडशीट कहते हैं।
गूगल डॉक्यूमेंट को यूज करने के लिए आप (docs.google.com) पर जाकर उसे अपने जी-मेल यूजरनेम और पासवर्ड से लॉग-इन कर सकते हैं। अगर आपका जीमेल यूजरनेम नही है तो (docs.google.com) पर गूगल अकाउंट बना सकते हैं। किसी भी नए डॉक्यूमेंट या स्प्रेडशीट को क्रिएट करने के लिए आप (docs.google.com) पर जाकर Create New पर क्लिक करें और डॉक्यूमेंट स्प्रेडशीट या प्रजेंटेशन जो भी आपको बनाना हो, उस ऑप्शन को सिलेक्ट करें। जब आप डॉक्यूमेंट पर काम करना शुरू करते हैं तो राइट कॉर्नर पर सेव बटन पर क्लिक करें, जिसके बाद रीनेम डॉक्यूमेंट नाम से एक बाक्स पर नजर आएगा। उसमें डॉक्यूमेंट का नाम एंटर करें। यह डॉक्यूमेंट बाद मे उसी नाम से डॉक्यूमेंट लिस्ट में मिल जाएगा। अगर आप अपने जी में है तो लेफट साइट में टॉप पर बने डॉक्यूमेंट लिंक को क्लिक करके भी अपने ऑनलाइन डॉक्यूमेंट को एक्सेस कर सकते हैं। गूगल डॉक्स में अगर आप जल्दी से कोई प्रोफेशनल डॉक्यूमेंट बनाना चाहते हैं तो आप सर्च टेम्पलेट से बने बनाए टेम्पलेट्‌स का यूज करके डॉक्यूमेंट को बना सकते हैं।
Share To:

Mayank Bhardwaj

                    ------------चेतावनी----------- 

इस profile में लिखी गयी सारी बातें सत्य घटना पर आधारित हैं । इन बातों का किसी और व्यक्ति/घटना से किसी भी प्रकार से मिलना (वैसे किसी से मिलेगी नही) महज़ एक संयोग समझा जाएगा । ********************** मैं एक नम्बर का लुच्चा, लफंगा, आवारा, बद्तमीज़, नालायक, बदमाश, दुष्ट, पापी, राक्षस (और जो बच गया हो उसे भी जोड़ लो) कतई नही हूँ यार । हाँ दारू, सुट्टा, गाँजा, अफ़ीम, हेरोइन वगैरह……अबे ये सब भी नही पीता हूँ यार मैं बहुत होनहार , सीधा-साधा , सबको प्यार करने वाला , नेक दिल , ईमानदार, हिम्मती, शरीफ़ (अबे पूरे शरीर से शराफ़त टपकती है भाई), भोलाभाला (बस भोला हूँ भाला वगैरह नही रखता यार………अबे आदिवासी ठोड़े ही हूँ) लडका हूँ 

Post A Comment:

3 comments so far,Add yours

  1. बहुत बढिया जानकारी दी है |
    आज गूगल ही नहीं बल्कि आप मिक्रोसोफ्त ऑफिस ऑनलाइन का भी उसे कर सकते है |
    क्योकि नया ऑफिस २०१० काफी महगा है |
    लकिन आप विंडो लाइव का उपयोग करके ऊफिस के document बना सकते है |
    जानकारी क लिए आभार |
    और आपको मकर संक्रन्ति की हार्दिक शुभकामनाये|

    ReplyDelete
  2. उपयोगी जानकारी
    आभार

    ReplyDelete
  3. मैं तो यही इस्तेमाल करता हूँ... बहुत सही है...

    ReplyDelete

क्या आप को ये पोस्ट अच्छा लगा तो अपने विचारों से टिपण्णी के रूप में अवगत कराएँ