how to use skype


skype download
skype download
Skype एक ऐसा सॉफ्टवेयर है जो पीसी से पीसी मुफ्त कॉल करने की सुविधा देता है। ऐसा नहीं है कि पीसी टू पीसी कॉल करने की यही एकमात्र सर्विस है, ऐसी कई सुविधाएं इंटरनेट पर उपलब्ध हैं। बहुतों ने याहू मैसेंजर, एमएसएन मैसेंजर आदि इस्तेमाल भी किया होगा, लेकिन ध्वनि की सबसे बेहतर स्पष्टता Skype से मिलती है। 
skype को हम बहुत आसानी से अपने सिस्टम में इंस्टॉल कर सकते हैं। कुछ ही मिनटों में दुनिया में किसी भी दूसरे सिस्टम पर बैठे अपने परिचित से बात कर सकते हैं। लोगों के साथ मुफ्त क्रांफ्रेंस कर सकते हैं। स्काइपे के इस्तेमाल से आप किसी मोबाइल या लैंडलाइन नंबर को भी कॉल कर सकते हैं, मगर यह सुविधा मुफ्त नहीं है।
उपयोग कैसे करें: स्काइपे को आधिकारिक वेबसाइट से अपने सिस्टम में डाउनलोड करें

- skype इंस्टॉलेशन के बाद एक विंडो खुलेगी। इसमें आप पूछे गए ओप्सन्स को चुनें।
- अब एक और पेज खुल जायेगा। जिसमे आप अपना नाम, वांछित यूजरनेम और पासवर्ड भरें और एंटर करें।
- अब स्काइपे आपसे आपका वैकल्पिक ईमेल मांगेगा। इसे अवश्य भरें ताकि भविष्य में पासवर्ड या प्रयोक्ता नाम भूल जाने की दशा में दोबारा प्राप्त किया जा सके।
- अब आपके सामने इसकी विंडो खुलेगी जिसमें नए कांटेक्ट को चुनना होगा। आप दो तरह से लोगों को अपने स्काइपे कांटेंक्ट में जोड़ सकते हैं। उपलब्ध विकल्पों में से कोई या खुद इच्छित व्यक्ति को मेल भेजकर।
- यदि आपके मित्र ने आपको स्काइपे नेम बता रखा हो तो उसे लिखें, फिर ईमेल पता और उसका पूरा नाम लिखकर क्लिक करें।
- आपको यदि वांछित परिणाम मिल जाये तो उसे चुन लें।
- फिर से एक नया विंडो खुलेगी, जिसमें आप शहर के नाम से, प्रयोक्ता के नाम से, लिंग, देश, भाषा, उम्र इत्यादि फिल्टरों से छांटकर स्काइपे प्रयोक्ताओं को अपनी मित्रता सूची में जोड़ सकते हैं।
- अब अपने कॉन्टैक्ट लिस्ट में से जिसे कॉल करना हो, चुनें बशर्ते वह ऑनलाइन हो। विंडो पर संपर्क के लिए दिखाए गए हरे रंग के बटन को दबा कर आप बात शुरू कर सकते हैं। इसी तरह जब आपको कोई कॉल करे तो हरे रंग के बटन से कॉल कनैक्ट करें। बहुत आसान है, उसी तरह लगता है जिस तरह का मोबाइल फोन में होता है। जानकारी टय़ूटोरिल स्काइपे की वेबसाइट पर भी उपलब्ध है। 
Share To:

Mayank Bhardwaj

                    ------------चेतावनी----------- 

इस profile में लिखी गयी सारी बातें सत्य घटना पर आधारित हैं । इन बातों का किसी और व्यक्ति/घटना से किसी भी प्रकार से मिलना (वैसे किसी से मिलेगी नही) महज़ एक संयोग समझा जाएगा । ********************** मैं एक नम्बर का लुच्चा, लफंगा, आवारा, बद्तमीज़, नालायक, बदमाश, दुष्ट, पापी, राक्षस (और जो बच गया हो उसे भी जोड़ लो) कतई नही हूँ यार । हाँ दारू, सुट्टा, गाँजा, अफ़ीम, हेरोइन वगैरह……अबे ये सब भी नही पीता हूँ यार मैं बहुत होनहार , सीधा-साधा , सबको प्यार करने वाला , नेक दिल , ईमानदार, हिम्मती, शरीफ़ (अबे पूरे शरीर से शराफ़त टपकती है भाई), भोलाभाला (बस भोला हूँ भाला वगैरह नही रखता यार………अबे आदिवासी ठोड़े ही हूँ) लडका हूँ 

Post A Comment:

3 comments so far,Add yours

  1. yes dear this is great effort to do this kind of job More

    ReplyDelete
  2. This is really awesome and i love that.. This is very unique thing you put on that post.. Thanks for sharing... follow

    ReplyDelete
  3. अच्छी जानकारी है स्काइप के बारे में .

    ReplyDelete

क्या आप को ये पोस्ट अच्छा लगा तो अपने विचारों से टिपण्णी के रूप में अवगत कराएँ